लोक राजनय लोक राजनय

बिम्‍सटेक की तीसरी शिखर बैठक

मार्च 04, 2014

हमने, बंग्‍लादेश जनवादी गणराज्‍य के प्रधान मंत्री, किंगडम ऑफ भूटान के प्रधान मंत्री, भारत गणराज्‍य के प्रधान मंत्री, म्‍यांमार संघीय गणराज्‍य के राष्‍ट्रपति, नेपाल के प्रधान मंत्री, श्री लंका लोकतांत्रिक समाजवादी गणराज्‍य के राष्‍ट्रपति और किंगडम ऑफ थाईलैंड के प्रधान मंत्री के विशेष दूत ने बिम्‍सटेक की तीसरी शिखर बैठक के लिए 4 मार्च, 2014 को नाय पी ताव, म्‍यांमार में बैठक की;

1997 की बैंकाक घोषणा में निहित बिम्‍सटेक के उद्देश्‍यों एवं प्रयोजनों की फिर से पुष्टि करते हुए,

बिम्‍सटेक की पहली शिखर बैठक (बैंकाक, 31 जुलाई, 2004) की घोषणा तथा दूसरी शिखर बैठक (नई दिल्‍ली, 13 नवंबर, 2008) की घोषणा को याद करते हुए,

भौगोलिक निकटता तथा समृद्ध ऐतिहासिक संबंधों एवं सांस्‍कृतिक विरासत को देखते हुए बिम्‍सटेक के सदस्‍य देशों के बीच घनिष्‍ठ रिश्‍तों एवं गहन होती जा रही भागीदारियों को स्‍वीकार करते हुए,

इस बारे में संदेह से परे होकर कि प्रचुर प्राकृतिक एवं मानव संसाधन से लैस बिम्‍सटेक के सदस्‍य देशों में प्राथमिकता के अभिचिन्हित क्षेत्रों में परस्‍पर लाभप्रद सहयोग के माध्‍यम से आर्थिक एवं सामाजिक विकास के लिए प्रचुर क्षमता है,

यह स्‍वीकार करते हुए कि भूमंडलीकरण एवं क्षेत्रीय सहयोग की वजह से बिम्‍सटेक के सदस्‍य देशों की अर्थव्‍यवस्‍थाओं एवं समाजों के अंदर सहलग्‍नता एवं परस्‍पर निर्भरता में निरंतर वृद्धि हो रही है तथा इससे क्षेत्रीय सहयोग में और वृद्धि करने एवं नई एवं उभरती चुनौतियों का सामना करने के अधिक अवसर प्राप्‍त हो रहे हैं,

सभी सदस्‍य देशों के लोगों की जीविका एवं जीवन पर जलवायु परिवर्तन से उत्‍पन्‍न खतरों को स्‍वीकार करते हुए,

लोगों के जीवन की गुणवत्‍ता एवं कल्‍याण में सुधार का सुनिश्‍चय करने के लिए बिम्‍सटेक क्षेत्र में गरीबी दूर करने की दृढ़ प्रतिबद्धता को दोहराते हुए,

इस क्षेत्र में शांति, स्थिरता एवं आर्थिक प्रगति के लिए आतंकवाद द्वारा उत्‍पन्‍न संकट को स्‍वीकार करते हुए और सभी रूपों के आतंकवाद एवं राष्‍ट्रपारीय अपराधों से निपटने में अधिक स‍हयोग की आवश्‍यकता पर बल देते हुए,

इस क्षेत्र के सबसे कम विकसित सदस्‍य देशों की विशेष चुनौतियों तथा उनकी विकास प्रक्रिया के अंदर उनकी सहायता करने की आवश्‍यकता को भी स्‍वीकार करते हुए,

इस बारे में संदेह से रहित होकर कि बिम्‍सटेक के सदस्‍य देशों के बीच सामंजस्‍य, समृद्धि एवं कल्‍याण में वृद्धि अधिक आर्थिक एवं सामाजिक सहयोग, संयोजकता में वृद्धि, स्‍थायी विकास के माध्‍यम से तथा सामान्‍य प्राकृतिक संसाधन आधार एवं सांस्‍कृतिक व जन दर जन संपर्कों का उपयोग करके हो सकती है,

क्षेत्रीय सहयोग समूह के रूप में बिम्‍सटेक के लिए अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हुए,

एततद्वारा:

हम बिम्‍सटेक के संस्‍थापक उद्देश्‍यों एवं प्रयोजनों को पूरा करने में अपने प्रयासों में बढ़ोत्‍तरी करने की प्रतिबद्धता करते हैं।

उत्‍पत्ति एवं उत्‍पाद विशिष्‍ट नियमावली की सहमत सामान्‍य नियमावली के साथ माल में व्‍यापार पर प्रारूप करार को अंतिम रूप देने की दिशा में अग्रसर होने तथा विवाद समाधान प्रक्रिया पर करार तथा बिम्‍सटेक मुक्‍त व्‍यापार क्षेत्र पर सहमत करार के अंतर्गत सीमा शुल्‍क से संबंधित मामलों में सहयोग एवं परस्‍पर सहायता पर करार पर हस्‍ताक्षर करने का भी निर्णय लिया है।

2014 के अंत तक माल में व्‍यापार पर करार को पूरा करने के लिए अपने कार्य की गति तेज करने तथा सेवाओं एवं निवेश पर करार को जल्‍दी से अंतिम रूप देने के लिए अपने प्रयासों को जारी रखने के लिए बिम्‍सटेक व्‍यापार वार्ता समिति (टी एन सी) को निर्देश देते हैं।

लघु, सूक्ष्‍म एवं मध्‍यम उद्यमों पर केंद्रित सहयोग एवं साझेदारी के माध्‍यम से सदस्‍य देशों के कौशल एवं प्रौद्योगिकी आधार का विस्‍तार करने में सहयोग बढ़ाने के लिए सहमति व्‍यक्‍त करते हैं तथा बिम्‍सटेक प्रौद्योगिकी अंतरण सुविधा की स्‍थापना पर संगम ज्ञापन को जल्‍दी से अंतिम रूप देने के लिए प्रयासों को तेज करने का निर्णय लेते हैं।

ऊर्जा क्षेत्र में क्षेत्रीय सहयोग बढ़ाने की आवश्‍यकता को रेखांकित करते हैं, 2014 में नेपाल में बिम्‍सटेक के ऊर्जा मंत्रियों की तीसरी बैठक के आयोजन तथा 2015 में भूटान में बिम्‍सटेक के ऊर्जा मंत्रियों की चौथी बैठक के आयोजन का भी स्‍वागत करते हैं तथा इस संदर्भ में बंगलुरू, भारत में बिम्‍सटेक ऊर्जा केंद्र की भूमिका को स्‍वीकार करते हैं।

बिम्‍सटेक क्षेत्र में भौतिक संयोजकता विकसित करने के लिए सतत रूप से जारी कार्य तथा अंतर्क्षेत्रीय संयोजकता, परिवहन अवसंरचना तथा संभार तंत्र में वृद्धि के लिए एशियाई विकास बैंक द्वारा सहायता प्राप्‍त बी टी आई एल एस को अपडेट करने में हुई प्रगति पर संतोष व्‍यक्‍त करते हैं तथा कार्यान्‍वयन के लिए ठोस परियोजनाओं की पहचान में किए गए प्रयासों का स्‍वागत करते हैं।

पर्यटन सहयोग कार्यक्रमों के कार्यान्‍वयन में तथा पर्यटन पर कार्य योजना के अनुवर्तन में हुई प्रगति पर संतोष व्‍यक्‍त करते हैं और सदस्‍य देशों को प्रोत्‍साहित करते हैं कि वे इस क्षेत्र में सहयोग बढ़ाकर, विशेष रूप से सदस्‍य देशों में निजी क्षेत्र के बीच भागीदारी में सुविधा के माध्‍यम से इस क्षेत्र की पर्यटन संबंधी प्रचुर संभावना को साकार करें।

अंतर्देशीय मत्‍स्‍य पालन सहित मत्‍स्‍य पालन तथा बंगाल की खाड़ी क्षेत्र में समुद्री संसाधनों के संरक्षण एवं प्रबंधन तथा संपोषणीय प्रयोग के क्षेत्रों में सहयोग जारी रखने का संकल्‍प करते हैं।

फसल सहित कृषि, पशुधन एवं बागवानी के क्षेत्र में सहयोग जारी रखने एवं बढ़ाने की अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हैं और इस क्षेत्र में उत्‍पादकता तथा कृषि उत्‍पाद की उपज में वृद्धि के लिए अल्‍पावधिक एवं दीर्घावधिक संयुक्‍त अनुसंधान कार्यक्रमों के माध्‍यम से सहयोगात्‍मक प्रयासों को गहन करने का निर्णय लेते हैं।

पर्यावरणीय संरक्षण एवं संपोषणीय विकास के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने तथा आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में क्षमता निर्माण को बढ़ावा देने का संकल्‍प करते हैं।

इस बात को स्‍वीकार करते हैं कि सदस्‍य देशों के बीच सांस्‍कृतिक सहयोग गहन होने से सांस्‍कृतिक उद्योगों के जरिए इस क्षेत्र के सामाजिक - आर्थिक विकास को बढ़ावा मिल सकता है।

परंपरागत दवा सहित स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने तथा परंपरागत दवाओं में राष्‍ट्रीय समन्‍वय केंद्रों के बिम्‍सटेक के नेटवर्क की गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए अपने प्रयासों को गहन करने पर सहमत हैं।

बिम्‍सटेक के सदस्‍य देशों के बीच विभिन्‍न स्‍तरों पर जन दर जन आदान - प्रदान एवं संपर्क को और बढ़ावा देने के लिए प्रयासों का विस्‍तार करने की अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हैं जिसमें बिम्‍सटेक व्‍यवसाय वीजा स्‍कीम तथा बिम्‍सटेक वीजा छूट स्‍कीम के माध्‍यम से यात्राओं में सुविधा प्रदान करना शामिल है।

पॉलिसी थिंक टैंक के बिम्‍सटेक नेटवर्क के स्‍थापित होने का स्‍वागत करते हैं तथा कार्यशाला, सेमिनार एवं विनिमय कार्यक्रम जैसी अल्‍प अवधि की गतिविधियां आयोजित करने के लिए सहयोग एवं समन्‍वय करने पर सहमत है, जिसमें बिम्‍सटेक पर लोगों को जागरूक बनाने के लिए श्रव्‍य - दृश्‍य कार्यक्रमों का आयोजन शामिल है।

नेपाल में जनवरी, 2012 में गरीबी उन्‍मूलन पर आयोजित दूसरी बिम्‍सटेक मंत्री स्‍तरीय बैठक में अपनाई गई बिम्‍सटेक गरीबी उन्‍मूलन कार्य योजना को लागू करने पर सहमत हैं तथा 2014 की पहली छमाही के दौरान गरीबी उन्‍मूलन पर तीसरी मंत्री स्‍तरीय बैठक के आयोजन के लिए श्रीलंका के प्रस्‍ताव का स्‍वागत करते हैं।

आतंकवाद एवं राष्‍ट्रपारीय अपराधों से निपटने में सदस्‍य देशों की कानून प्रवर्तन एजेंसियों के बीच घनिष्‍ठ सहयोग पर संतोष व्‍यक्‍त करते हैं, अंतर्राष्‍ट्रीय आतंकवाद, संगठित राष्‍ट्रपारीय अपराध तथा दवाओं के अवैध व्‍यापार से निपटने में सहयोग पर बिम्‍सटेक अभिसमय को लागू करने के लिए अभिपुष्टि की गति तेज करने तथा आपराधिक मामलों में परस्‍पर सहायता पर बिम्‍सटेक अभिसमय पर जल्‍दी से हस्‍ताक्षर करने का भी आह्वान करते हैं।

बिम्‍सटेक क्षेत्र में जलवायु परिवर्तन के प्रतिकूल प्रभावों को दूर करने के लिए सदस्‍य देशों के बीच सहयोगात्‍मक पहलों का पता लगाने पर सहमत हैं।

बिम्‍सटेक की रूपरेखा के अंदर गतिविधियों के सभी क्षेत्रों में, जिसमें संस्‍थानिक तंत्रों को सुदृढ़ करना शामिल है, सहयोग को गहन करने के लिए प्रयासों को तेज करने पर सहमत हैं।

बिम्‍सटेक के निम्‍नलिखित लिखतों पर हस्‍ताक्षर होने का स्‍वागत करते हैं:

1. बिम्‍सटेक स्‍थायी सचिवालय की स्‍थापना पर संगम ज्ञापन।

2. बिम्‍सटेक मौसम एवं जलवायु केंद्र की स्‍थापना के संबंध में बिम्‍सटेक के सदस्‍य देशों के बीच संगम ज्ञापन।

3. बिम्‍सटेक सांस्‍कृतिक उद्योग आयोग (बी सी आई सी) और बिम्‍सटेक सांस्‍कृतिक उद्योग प्रेक्षणशाला (बी सी आई ओ) की स्‍थापना पर समझौता ज्ञापन।

ढाका में बिम्‍सटेक के सचिवालय के लिए परिसर उपलब्‍ध कराने के लिए बंग्‍लादेश जनवादी गणराज्‍य की सरकार की प्रशंसा करते हैं तथा सचिवालय को चालू करने की दिशा में हुई प्रगति पर संतोष भी व्‍यक्‍त करते हैं।

बिम्‍सटेक के पहले महासचिव के रूप में श्रीलंका के श्री सुमिथ नाकांदला की नियुक्ति का स्‍वागत करते हैं।

वर्ष, 2009 से बिम्‍सटेक का सफल नेतृत्‍व करने के लिए म्‍यांमार की दिल से प्रशंसा करते हैं तथा बिम्‍सटेक के नए अध्‍यक्ष के रूप में नेपाल का स्‍वागत करते हैं1

हम, बंग्‍लादेश, भूटान, भारत, नेपाल, श्रीलंका के नेता तथा थाईलैंड की प्रधान मंत्री के विशेष दूत गर्मजोशीपूर्ण अतिथि सत्‍कार के लिए तथा इस शिखर बैठक के लिए की गई उत्‍कृष्‍ट व्‍यवस्‍थाओं के लिए म्‍यांमार सरकार की दिल से प्रशंसा करते हैं। 


नाय पी ताव, म्‍यांमार
मार्च 4 , 2014



पेज की प्रतिक्रिया

टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code
केन्द्र बिन्दु में
यह भी देखें