मीडिया सेंटर मीडिया सेंटर

प्रश्न सं. 4073 भारतीयों को यात्रा संबंधी परामर्श

मार्च 18, 2020

लोक सभा
अतारांकित प्रश्न सं. 4073
18.03.2020 को उत्तर दिए जाने के लिए

भारतीयों को यात्रा संबंधी परामर्श

4073. श्री ए.के.पी. चिनराज:


क्या विदेश मंत्री यह बताने की कृपा करेंगे कि:

(क) क्या सरकार ने हाल ही में एक नया यात्रा संबंधी परामर्श जारी करके भारतीयों को इराक के पांच प्रांतों यानि निन्तेह, सलाहुद्दीन, दिवाला, अंबर और किरकुक की यात्रा न करने को कहा है;

(ख) यदि हां, तो तत्संबंधी ब्यौरा क्या है;

(ग) विगत तीन वर्षों के दौरान कुल कितने भारतीयों ने उक्त पांच प्रांतों की यात्रा की है; और

(घ) केन्द्र सरकार द्वारा उक्त प्रांतों में भारतीयों की रक्षा हेतु क्या प्रयास किए गए हैं?

उत्तर
विदेश राज्य मंत्री
[श्री वी. मुरलीधरन]

(क) और (ख) जी, हां। भारतीय नागरिकों के लिए 18 फरवरी, 2020 को यात्रा परामर्शी जारी की गर्इ थी कि वे इराक के पांच प्रांतों निन्वेह, सलाहुद्दीन, दियाला, अनबर और किरकुक को छोड़कर वहां की यात्रा करने के बारे में विचार कर सकते हैं, क्योंकि मौजूदा स्थिति के कारण ये प्रांत असुरक्षित हैं। यात्रा परामर्शी की प्रति संलग्न है।

(ग) उपलब्ध सूचना के अनुसार, पिछले तीन महीनों के दौरान किसी भी भारतीय नागरिक ने इन प्रांतों की यात्रा नहीं की है।

(घ) लागू नहीं होता।



*****

 

इराक की यात्रा करने वाले भारतीय नागरिकों के लिए यात्रा परामर्शी

फरवरी 18,2020

आर्इएसआर्इएस आतंकवादियों द्वारा इराकी क्षेत्र के बड़े भू-भाग पर कब्जा करने के बाद इराक में बन रही संकटपूर्ण स्थिति के मद्देनजर भारतीय नागरिकों को अगली अधिसूचना तक इराक की यात्रा न करने की चेतावनी देते हुए 15 जून, 2014 को एक यात्रा परामर्शी जारी की गर्इ थी। जैसे-जैसे स्थानीय सुरक्षा स्थिति में सुधार हुआ इराक के पांच प्रांतों को छोड़कर, क्योंकि वो आतंकवाद और हिंसा से प्रभावित थे, भारतीय नागरिकों को वहां की यात्रा करने की अनुमति देते हुए 04फरवरी, 2019 को दूसरी यात्रा परामर्शी जारी की गर्इ थी।

तनाव वृद्घि होने के कारण 08जनवरी, 2020 को एक नर्इ यात्रा परामर्शी जारी की गर्इ थी, जिसमें यह आश्वस्त करते हुए कि बगदाद में हमारा राजदूतावास और इर्बिल में हमारा कोंसुलावास इराक में रहने वाले भारतीयों को सभी सेवाएं प्रदान करने के लिए सामान्य रूप से कार्य करते रहेंगे, अगली अधिसूचना तक इराक जाने और इराक के भीतर गैर जरूरी यात्रा न करने की चेतावनी दी गर्इ थी।

इराक की यात्रा करने के इच्छुक भारतीय नागरिकों के लिए पिछली परामर्शियों में संशोधन और उनका समेकन करते हुए इराक के विभिन्न क्षेत्रों में उनकी इच्छित यात्रा के लिए निम्नलिखित यात्रा परामर्शी तत्काल प्रभावी होगीः-

(i) भारतीय नागरिक अब इराक के पांच प्रांतों अर्थात् निन्वेह (राजधानी मौसुल), सलाहुद्दीन (राजधानी तिकरित), दियाला (राजधानी बकुबा), अनबर (राजधानी रमादी) और किरकुक को छोड़कर वहां की यात्रा करने के लिए विचार कर सकते हैं।

(ii) भारतीय नागरिकों को इराक के उपरोक्त पांच प्रांतों की यात्रा न करने की सलाह दी गर्इ है क्योंकि मौजूदा सुरक्षा स्थिति के कारण ये प्रांत असुरक्षित हैं।

(iii) रोजगार के लिए यात्रा के इच्छुक और पहले ही कार्य परमिट और उपयुक्त वीजा धारण करने वाले भारतीय नागरिक उपरोक्त सूचीबद्घ असुरक्षित स्थानों को छोड़कर इराक में सुरक्षित स्थानों पर अपने रोजगार पर लौट सकते हैं और इराक की यात्रा करने से पूर्व बगदाद में भारतीय राजदूतावास या इर्बिल में भारतीय कौंसुलावास को सूचित कर सकते हैं।

(iv) वो भारतीय नागरिक जो धार्मिक प्रयोजनों के लिए यात्रा करना चाहते हैं और जिनके पास उपयुक्त वीजा और वापसी की हवार्इ यात्रा की टिकट है, वे पवित्र स्थल नजफ और कर्बला की तीर्थ यात्रा पर भी जा सकते हैं। उन्हें अपनी धार्मिक तीर्थ यात्रा के लिए पड़ोसी सीरिया की यात्रा पर नहीं जाना चाहिए और इराक से सीरिया या सीरिया से इराक सड़क द्वारा यात्रा नहीं करनी चाहिए।

नर्इ दिल्ली
फरवरी 18,2020
टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code


यह भी देखें