मीडिया सेंटर मीडिया सेंटर

विदेश राज्य मंत्री श्रीमती मीनाक्षी लेखी का पुर्तगाल दौरा (12-14 सितंबर, 2021)

सितम्बर 15, 2021

1. विदेश राज्य मंत्री (राज्यमंत्री) श्रीमती मीनाकक्षी लेखी ने 12-14 सितंबर 2021 तक पुर्तगाल का आधिकारिक दौरा किया।

2. इस यात्रा के दौरान राज्य मंत्री ने अपने समकक्ष, विदेश एवं सहयोग राज्य मंत्री महामहिम श्री फ्रांसिस्को आंद्रे के साथ द्विपक्षीय संबंधों की गहन समीक्षा की। इसके बाद पुर्तगाल में काम करने के लिए भारतीय नागरिकों की भर्ती पर द्विपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर किए गए जो मील का पत्थर साबित हुआ। पुर्तगाल पहला यूरोपीय देश है जिसके साथ भारत ने श्रमिकों की आवाजाही पर एक समर्पित समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। यह यूरोपीय संघ के बाहर पुर्तगाल द्वारा हस्ताक्षरित पहला ऐसा समझौता भी है। यह समझौता पुर्तगाल में भारतीय कामगारों और पेशेवरों की भर्ती के लिए प्रक्रियाओं को निर्धारित करता है और भारतीयों के लिए रोजगार के नए अवसर खोलेगा और दोनों देशों के बीच सामाजिक-आर्थिक संबंधों को और मजबूत करेगा।

3. पुर्तगाल के विदेश मंत्री, महामहिम श्री ऑगस्टो सैंटोस सिल्वा ने राज्य मंत्री के लिए दोपहर के भोजन की मेजबानी की, जिसमें विदेश एवं सहयोग राज्य मंत्री महामहिम श्री फ्रांसिस्को आंद्रे और अंतर्राष्ट्रीयकरण राज्य मंत्री महामहिम श्री यूरिको ब्रिलहंटे डायस ने भी भाग लिया। मंत्री सिल्वा ने भारत के बड़े पैमाने पर टीकाकरण प्रयासों की सराहना की और दोनों देशों के बीच उच्च स्तरीय द्विपक्षीय यात्राओं की गति को जारी रखने की उम्मीद व्यक्त की क्योंकि महामारी की स्थिति में सुधार हुआ है। मंत्री सिल्वा ने इस साल मई में पोर्टो में सफल भारत-यूरोपीय संघ के नेताओं की बैठक का भी उल्लेख किया और ब्रुसेल्स में इसके परिणामों के शीघ्र कार्यान्वयन पर जोर दिया। राज्य मंत्री ने पुर्तगाल के साथ द्विपक्षीय आर्थिक और वाणिज्यिक संबंधों को बढ़ाने और विविधता लाने पर अधिक ध्यान देने का आह्वान किया और राजनीतिक, व्यावसायिक और लोगों से लोगों के जुड़ाव को फिर से शुरू करने के लिए टीकाकरण और वैक्सीन प्रमाणपत्रों की पारस्परिक मान्यता के संबंध में तात्कालिकता को दोहराया।

4. पुर्तगाल के संस्कृति मंत्री के साथ अपनी बैठक में, महामहिम डॉ. ग्राका फोंसेका, राज्य मंत्री ने संस्कृति के क्षेत्र में सहयोग के रास्ते तलाशे जैसे कि युवाओं और साहित्यिक प्रतिनिधिमंडलों का आदान-प्रदान, फरवरी 2020 में पुर्तगाल के साथ हस्ताक्षरित एमओयू के तहत लोथल में मैरीटाइम हेरिटेज गैलरी की स्थापना, विरासत संरक्षण में क्षमता निर्माण, अभिलेखागार और संग्रहालय और संबंधित कौशल में प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण। राज्य मंत्री ने कम्युनिटी ऑफ पुर्तगाली लैंग्वेज कंट्रीज (सीपीएलपी) के कार्यकारी सचिव महामहिम डॉ. जकारियास दा कोस्टा से भी मुलाकात की। जुलाई 2021 में लुआंडा शिखर सम्मेलन में एसोसिएट ऑब्जर्वर के रूप में भारत के सीपीएलपी में शामिल होने के बाद से यह भारत और सीपीएलपी के बीच पहली उच्च स्तरीय बातचीत थी। राज्य मंत्री ने सीपीएलपी के व्यक्त उद्देश्यों के अनुसार लुसोफोन देशों के साथ सहयोग को गहन करने की दिशा में भारत की प्रतिबद्धता से अवगत कराया।

5. यात्रा के दौरान, राज्य मंत्री ने भारतीय प्रवासियों के साथ भी बातचीत की और लिस्बन में भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को चिह्नित करने वाले आजादी के अमृत महोत्सव समारोह में भाग लिया। उन्होंने वसुधैव कुटुम्बकम की भावना से भारतीय संस्कृति के संरक्षण और भारत और दुनिया के बीच मजबूत बंधन बनाने में प्रवासी समुदाय की भूमिका के बारे में बताया। राज्य मंत्री ने महात्मा गांधी पार्क का दौरा किया और महात्मा को पुष्पांजलि अर्पित की और बाद में हिंदू मंदिर का दौरा किया।

6. पुर्तगाल के साथ भारत के पारंपरिक संबंध गर्मजोशी और मित्रता से चिह्नित हैं और हाल के वर्षों में पारस्परिक समझ और नेतृत्व के समर्थन के साथ गतिशीलता ग्रहण की है। कोविड-19 महामारी के कारण होने वाले व्यवधानों के बावजूद दोनों देशों के बीच अर्थव्यवस्था और व्यापार, विज्ञान, रक्षा, लोगों से लोगों के संबंधों और संस्कृति के क्षेत्र में सक्रियता और सहयोग बढ़ रहा है । यह यात्रा, जो महामारी की शुरुआत के बाद से भारत की ओर से पहली मंत्री स्तरीय यात्रा थी, ने पुर्तगाल और यूरोपीय संघ के साथ भारत के बढ़ते संबंधों को और गति प्रदान की है।

नई दिल्ली
सितंबर 15, 2021

Comments
टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code