मीडिया सेंटर मीडिया सेंटर

भारत और चीन के बीच कोर कमांडर स्तर की 13 वें दौर की बैठक

अक्तूबर 11, 2021

भारत-चीन कोर कमांडर स्तर की 13वीं बैठक 10 अक्टूबर 2021 को चुशुल-मोल्दो सीमा पर निर्धारित स्थान पर आयोजित की गई । बैठक के दौरान दोनों पक्षों के बीच मुख्य रूप से पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के अलावा कई अन्य मुद्दों के समाधान पर चर्चा की गई। भारत ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा पर जो कुछ हुआ वह चीन द्वारा द्वारा यथास्थिति को बदलने और द्विपक्षीय समझौतों के उल्लंघन के एकतरफा प्रयासों का परिणाम था। भारत ने कहा कि इसलिए यह आवश्यक है कि चीनी पक्ष शेष क्षेत्रों के बारे में भी उचित कदम उठाए ताकि पश्चिमी क्षेत्र में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर शांति बहाल की जा सके। यह दोनों देशों के विदेश मंत्रियों द्वारा दुशांबे में अपनी हाल की बैठक में तय किए गए दिशा निर्देशों के अनुरूप भी होगा। बैठक में दोनों पक्ष इस बात पर सहमत हुए थे कि शेष मुद्दों को जल्द से जल्द हल किया जाना चाहिए। भारतीय पक्ष ने इस बात पर जोर दिया कि शेष क्षेत्रों के ऐसे समाधान से द्विपक्षीय संबंधों में प्रगति का रास्ता सुगम हो सकेगा। बैठक के दौरान भारतीय पक्ष ने शेष क्षेत्रों से जुड़े मामलों को हल करने के लिए रचनात्मक सुझाव दिए लेकिन चीनी पक्ष इसपर सहमत नहीं हुआ और न ही इस दिशा में आगे बढ़ने का कोई प्रस्ताव दे सका। ऐसे में बैठक में शेष क्षेत्रों के समाधान का कोई रास्ता नहीं निकल सका।

बैठक में दोनों पक्ष बराबर संवाद बनाए रखने और जमीनी स्तर पर स्थिरता बनाए रखने पर सहमत हुए । हमें उम्मीद है कि चीनी पक्ष द्विपक्षीय संबंधों के समग्र परिप्रेक्ष्य को ध्यान में रखेगा और द्विपक्षीय समझौतों और प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन करते हुए शेष मुद्दों के शीघ्र समाधान की दिशा में काम करेगा।

नई दिल्ली
अक्टूबर11, 2021

Comments
टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code