यात्रायें यात्रायें

कोस्टा रीका में प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता के बाद उपराष्ट्रपति का प्रेस वक्तव्य

मार्च 08, 2019

महामहिम राष्ट्रपति कार्लोस अल्वाराडो कुसाडा और कोस्टा रीका की मीडिया के प्रतिष्ठित प्रतिनिधि

मेरा प्रतिनिधिमंडल और मैं वास्तव में कोस्टा रीका, जो कि एक खूबसूरत देश है और मध्य अमेरिका में एक प्रमुख अर्थव्यवस्था है, की यात्रा करके बहुत खुश हैं।

कोस्टा रीका की प्रति वर्ग किलोमीटर जैव विविधता विश्व में सबसे अधिक है। इसके समृद्ध वनस्पतियों और जीवों को अच्छी तरह से जाना जाता है। इसमें 25% संरक्षित वन क्षेत्र है और उच्चतम पर्यावरण-अनुकूल प्रवृत्ति और दृष्टिकोण सहित सबसे अधिक वन क्षेत्र के लिए इसका ‘हैप्पी प्लैनेट’ सूचकांक सबसे अधिक है।

कल मैंने एक व्यापार मंच की बैठक को संबोधित किया था।

इससे पहले आज, मुझे शांति विश्वविद्यालय में बोलने का अवसर दिया गया था।

महात्मा गांधी की धरती से आने और वर्ष में जब हम बापू के जन्मदिन की 150 वीं वर्षगांठ मनाएंगे, तो यह पहल विशेष रूप से मेरे लिए उत्साहपूर्ण थी ।

भारत एक शांतिप्रिय देश है लेकिन पिछले कुछ दशकों से सीमा पार आतंकवाद का निशाना बन रहा है।

हमने आतंकवाद के खतरे पर विस्तृत चर्चा की और उसके खिलाफ लड़ाई पर एकमत हुए। पुलवामा में 14 फरवरी, 2019 को संयुक्त राष्ट्र द्वारा आरोपित आतंकवादी संगठन द्वारा भारतीय सुरक्षा बलों पर नृशंस आतंकवादी हमले ने एक बार फिर आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त व्यक्तियों और आतंकवादी समूहों के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय समुदाय द्वारा निर्णायक कार्रवाई की आवश्यकता पर जोर है। राष्ट्रपति क्वासाडा और मेरे बीच द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और बहुपक्षीय क्षेत्रों में आपसी हित के कई क्षेत्रों के बारे में सफल और सौहार्दपूर्ण बातचीत हुई है।

सहयोग के कई नए क्षेत्र हैं जो हमारे द्विपक्षीय संबंधों को नई ऊंचाइयों पर ले जाने की क्षमता रखते हैं।

कोस्टा रीका की ताकत जिसका हम लाभ उठाना चाहते हैं, उसमें पर्यावरण पर्यटन, स्वच्छ परिवहन जिसमें साइकिल चलाना, शिक्षा में उच्च निवेश, 2021 तक शून्य कार्बन उत्सर्जन अर्थव्यवस्था का लक्ष्य शामिल है।

भारतीय ताकत जिसका लाभ कोस्टा रीका को हो सकता हैं, उसमें अंतरिक्ष और जैव प्रौद्योगिकी, नवीकरणीय जिनमें सौर, फार्मास्यूटिकल्स, आईसीटी विशेष रूप से ई-शासन, पनबिजली जनरेटर और बिजली संयंत्र के उपकरण, कृषि मशीनरी और कौशल उन्नयन, रेलवे निर्माण और रोलिंग स्टॉक शामिल हैं।

मैंने कोस्टा रीका की कंपनियों को भारत में निवेश करने के लिए आमंत्रित किया है । मैंने बताया कि जितने भी कोस्टा रीका के सीईओ और प्रभावशाली व्यवसायी विकसित देशों में सहायक निवेशकों और व्यापारियों के साथ घनिष्ठ संबंध रखते हैं, वे भारत में विस्तार करने और आकर्षक भारतीय अर्थव्यवस्था के निवेश पर उच्च लाभ से लाभान्वित हो सकते हैं।

हम शैक्षिक आदान-प्रदान, जिसमें उच्च गति आभासी कनेक्टिविटी सहित विश्वविद्यालयों की आपसी संबद्धता के माध्यम से प्रभावी ढंग से और पारस्परिक लाभ के लिए सहयोग कर सकते हैं, ।

हमारी सफल बातचीत के आधार पर, हमें विश्वास है कि हमारे आपसी प्रयासों से दोनों देशों के बीच चल रहे संबंधों को गहरा करने के लिए नए और आधुनिक रास्ते खुलेंगे।

हमारी एयरलाइंस और आगंतुक अनुकूल वीजा के बीच कोड शेयरिंग का उपयोग करके वायु संपर्क से हम नगरिकों के बीच संबंधों को बढ़ावा देने में सक्षम होंगे, जो द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाने करने और गहरा करने के लिए आवश्यक हैं।

हम अक्टूबर 2018 में राष्ट्रपति के फैसले की घोषणा की सरहना करते हैं, जिसके तहत योग और ध्यान के प्रचार से संबंधित सभी गतिविधियों और पहलों को जनहितकारी घोषित किया गया है, जिससे कोस्टा रीका में योग को बढ़ावा देने में मदद मिली है।

आज तक हमारे विदेश कार्यालय परामर्श के दो दौर हमारे संबंधों के विभिन्न मुद्दों पर व्यापक चर्चा करने के लिए बहुत उपयोगी साबित हुए हैं। हमने अपनी टीमों को परामर्श के के अगले चरण को जल्द करने के लिये कहा है ।

मैं राष्ट्रपति कुसाडा और कोस्टा रीका के लोगों के गर्मजोशी से भरे आतिथ्य और हमारी यात्रा के लिए किए गए बेहतरीन इंतजामों के लिए अपनी कृतज्ञता व्यक्त करता हूं।

मार्च 08, 2019
सैन जोस, कोस्टा रीका



Page Feedback

टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code