मीडिया सेंटर मीडिया सेंटर

प्रधानमंत्री ने जी 7 शिखर सम्मेलन के पहले संपर्क सत्र में शिरकत की

जून 12, 2021

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आज जी7 शिखर सम्मेलन के पहले संपर्क सत्र में शिरकत की।

'बिल्डिंग बैक स्ट्रॉन्गर - हेल्थ' शीर्षक पर आयोजित सत्र, कोरोनावायरस महामारी से वैश्विक निजात तथा भविष्य की महामारियों के खिलाफ तैयारियों को मजबूत करने पर केंद्रित था।

सत्र के दौरान प्रधानमंत्री ने भारत में हाल ही में कोविड संक्रमण की लहर के दौरान जी7 तथा अन्य अतिथि देशों द्वारा दिए गए समर्थन की सराहना की ।

उन्होंने महामारी से लड़ने के लिए भारत के 'समग्र समाज' के दृष्टिकोण पर प्रकाश डाला जिससे सरकार, उद्योग और नागरिक समाज के सभी स्तरों के प्रयासों का तालमेल बैठाया गया।

उन्होंने संपर्क ट्रेसिंग और वैक्सीन प्रबंधन के लिए ओपन सोर्स डिजिटल टूल्स के भारत के सफल उपयोग के बारे में भी बताया, और अन्य विकासशील देशों के साथ अपने अनुभव और विशेषज्ञता को साझा करने की भारत की इच्छा से अवगत कराया।

प्रधानमंत्री ने वैश्विक स्वास्थ्य शासन प्रणाली में सुधार के लिए सामूहिक प्रयासों के लिए भारत के समर्थन की प्रतिबद्धता जताई। उन्होंने कोविड संबंधित तकनीकों पर ट्रीप्स छूट के लिए भारत और दक्षिण अफ्रीका द्वारा डब्ल्यूटीओ में लाए गए प्रस्ताव के लिए जी7 का समर्थन मांगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज की बैठक से पूरी दुनिया के लिए "एक पृथ्वी, एक स्वास्थ्य" का संदेश जाना चाहिए। भविष्य की महामारियों को रोकने के लिए वैश्विक एकता, नेतृत्व और एकजुटता का आह्वान करते हुए, प्रधान मंत्री ने इस संबंध में लोकतांत्रिक और पारदर्शी समाजों की विशेष जिम्मेदारी पर जोर दिया।

प्रधानमंत्री कल जी-7 शिखर सम्‍मेलन के अंतिम दिन दो सत्रों को संबोधित करेंगे।

नई दिल्ली
जून 12, 2021

Comments
टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code